Special - Vidya Ganapathy Homa - 26, July, 2024

Seek blessings from Vidya Ganapathy for academic excellence, retention, creative inspiration, focus, and spiritual enlightenment.

Click here to participate

शिव मंगल स्तुति

भुवने सदोदितं हरं
गिरिशं नितान्तमङ्गलम्।
शिवदं भुजङ्गमालिनं
भज रे शिवं सनातनम्।
शशिसूर्यवह्निलोचनं
सदयं सुरात्मकं भृशम्।
वृषवाहनं कपर्दिनं
भज रे शिवं सनातनम्।
जनकं विशो यमान्तकं
महितं सुतप्तविग्रहम्।
निजभक्तचित्तरञ्जनं
भज रे शिवं सनातनम्।
दिविजं च सर्वतोमुखं
मदनायुताङ्गसुन्दरम्।
गिरिजायुतप्रियङ्करं
भज रे शिवं सनातनम्।
जनमोहकान्धनाशकं
भगदायकं भयापहम्।
रमणीयशान्तविग्रहं
भज रे शिवं सनातनम्।
परमं चराचरे हितं
श्रुतिवर्णितं गतागतम्।
विमलं च शङ्करं वरं
भज रे शिवं सनातनम्।

 

Ramaswamy Sastry and Vighnesh Ghanapaathi

98.9K
1.3K

Comments Hindi

v3ij7
वेदधारा की वजह से मेरे जीवन में भारी परिवर्तन और सकारात्मकता आई है। दिल से धन्यवाद! 🙏🏻 -Tanay Bhattacharya

वेदधारा सनातन संस्कृति और सभ्यता की पहचान है जिससे अपनी संस्कृति समझने में मदद मिल रही है सनातन धर्म आगे बढ़ रहा है आपका बहुत बहुत धन्यवाद 🙏 -राकेश नारायण

यह वेबसाइट ज्ञान का खजाना है। 🙏🙏🙏🙏🙏 -कीर्ति गुप्ता

वेदधारा का प्रभाव परिवर्तनकारी रहा है। मेरे जीवन में सकारात्मकता के लिए दिल से धन्यवाद। 🙏🏻 -Anjana Vardhan

😊😊😊 -Abhijeet Pawaskar

Read more comments

Other stotras

Copyright © 2024 | Vedadhara | All Rights Reserved. | Designed & Developed by Claps and Whistles
| | | | |