Special - Vidya Ganapathy Homa - 26, July, 2024

Seek blessings from Vidya Ganapathy for academic excellence, retention, creative inspiration, focus, and spiritual enlightenment.

Click here to participate

चंद्रमौलि दशक स्तोत्र

सदा मुदा मदीयके मनःसरोरुहान्तरे
विहारिणेऽघसञ्चयं विदारिणे चिदात्मने।
निरस्ततोय- तोयमुङ्निकाय- कायशोभिने
नमः शिवाय साम्बशङ्कराय चन्द्रमौलये।
नमो नमोऽष्टमूर्तये नमो नमानकीर्तये
नमो नमो महात्मने नमः शुभप्रदायिने।
नमो दयार्द्रचेतसे नमोऽस्तु कृत्तिवाससे
नमः शिवाय साम्बशङ्कराय चन्द्रमौलये।
पितामहाद्यवेद्यक- स्वभावकेवलाय ते
समस्तदेववासवादि- पूजिताङ्घ्रिशोभिने।
भवाय शक्ररत्नसद्गल- प्रभाय शूलिने
नमः शिवाय साम्बशङ्कराय चन्द्रमौलये।
शिवोऽहमस्मि भावये शिवं शिवेन रक्षितः
शिवस्य पूर्णवर्चसः समर्चये पदद्वयम् ।
शिवात्परं न विद्यते शिवे जगत् प्रवर्तये
नमः शिवाय साम्बशङ्कराय चन्द्रमौलये।
मरन्दतुन्दिलारविन्द- सुन्दरस्मिताननो-
न्मिलन्मिलिन्दववृन्द- नीलनीलकुन्तलां शिवाम्।
कलाकलापसारिणीं शिवां च वीक्ष्य तोषिणे
नमः शिवाय साम्बशङ्कराय चन्द्रमौलये।
शिवाननारविन्द- सन्मिलिन्दभावभाङ्मनो-
विनोदिने दिनेशकोटि- कोटिदीप्ततेजसे ।
स्वसेवलोकसादराव- लोकनैकवर्तिने
नमः शिवाय साम्बशङ्कराय चन्द्रमौलये।
जटातटीलुठद्वियद्धुनी- धलद्धलध्वन-
द्घनौघगर्जितोत्थबुद्धि- सम्भ्रमच्छिखण्डिने।
विखण्डितारिमण्डल- प्रचण्डदोस्त्रिशूलिने
नमः शिवाय साम्बशङ्कराय चन्द्रमौलये।
प्रहृष्टहृष्टतुष्टपुष्ट- दिष्टविष्टपाय सं-
नमद्विशिष्टभक्त- विष्टराप्तयेऽष्टमूर्तये।
विदायिने धनाधिनाथसाधु- सख्यदायिने
नमः शिवाय साम्बशङ्कराय चन्द्रमौलये।
अखर्वगर्वदोर्विजृम्भ- दम्भकुम्भदानव-
च्छिदासदाध्वन- त्पिनाकहारिणे विहारिणे।
सुहृत्सुहृत्सुहृत्सुहृत्सु- हृत्स्मयापहारिणे
नमः शिवाय साम्बशङ्कराय चन्द्रमौलये।
अखण्डदण्डबाहुदण्ड- दण्डितोग्रडिण्डिम-
प्रधिं धिमिन्धिमिन्धिमिन्ध्वनि- क्रमोत्थताण्डवम्।
अखण्डवैभवाहि- नाथमण्डितं चिदम्बरं
नमः शिवाय साम्बशङ्कराय चन्द्रमौलये।

 

Ramaswamy Sastry and Vighnesh Ghanapaathi

38.5K

Comments Hindi

vi4rz
वेद पाठशालाओं और गौशालाओं के लिए आप जो कार्य कर रहे हैं उसे देखकर प्रसन्नता हुई। यह सभी के लिए प्रेरणा है....🙏🙏🙏🙏 -वर्षिणी

वेदधारा के माध्यम से मिले सकारात्मकता और विकास के लिए आभारी हूँ। -Varsha Choudhry

आपकी वेबसाइट ज्ञान और जानकारी का भंडार है।📒📒 -अभिनव जोशी

वेदधारा की धर्मार्थ गतिविधियों में शामिल होने पर सम्मानित महसूस कर रहा हूं - समीर

आपकी वेबसाइट अद्वितीय और शिक्षाप्रद है। -प्रिया पटेल

Read more comments

Other stotras

Copyright © 2024 | Vedadhara | All Rights Reserved. | Designed & Developed by Claps and Whistles
| | | | |