चंडी मंदिर चंडीगढ़

 

 

90.0K
1.2K

Comments

Gx8eu
सनातन धर्म के भविष्य के लिए वेदधारा का योगदान अमूल्य है 🙏 -श्रेयांशु

वेदधारा समाज के लिए एक महान सेवा है -शिवांग दत्ता

आपकी वेबसाइट बहुत ही अद्भुत और जानकारीपूर्ण है।✨ -अनुष्का शर्मा

बहुत बढिया चेनल है आपका -Keshav Shaw

बहुत प्रेरणादायक 👏 -कन्हैया लाल कुमावत

Read more comments

योग के तीन प्रकार के आचार्य

१. चोदक - जो योग में उतरने के लिए प्रेरणा देते हैं २. बोधक - जो योगाभ्यास सिखाते हैं ३. मोक्षद - जो अपने शिष्य को मोक्ष तक पहुंचाते हैं।

भीष्म पितामह अपने पूर्व जन्म में कौन थे?

भीष्म जी अपने पूर्व जन्म में द्यौ थे जो अष्ट वसुओं में से एक हैं। वे सभी ऋषि वशिष्ठ के श्राप के कारण धरती पर जन्म लिए थे। उनकी मां, गंगा ने उन्हें श्राप से राहत देने के लिए जन्म के तुरंत बाद उनमें से सात को डुबो दिया। सिर्फ भीष्म जी जीवित रहे।

Quiz

गणेशजी का वाहन बनने से पहले मूषक कौन था ?
Copyright © 2024 | Vedadhara | All Rights Reserved. | Designed & Developed by Claps and Whistles
| | | | |