हस्त नक्षत्र

Hasta Nakshatra symbol hand

  

कन्या राशि के १० अंश से २३ अंश २० कला तक जो नक्षत्र व्याप्त है उसे हस्त कहते हैं। 

वैदिक खगोल विज्ञान में यह तेरहवां नक्षत्र है। 

आधुनिक खगोल विज्ञान के अनुसार हस्त नक्षत्र को α Alchiba, β Kraz, γ, δ Algorab and ε Minkar Corvi  कहते हैं।

व्यक्तित्व और विशेषताएं

हस्त नक्षत्र में जन्म लेने वालों की विशेषताएं -

  • ज्ञान
  • जिज्ञासु
  • कुलीन व्यवहार
  • कड़ी मेहनती
  • आकर्षक व्यक्तित्व
  • शांतिपूर्ण
  • आत्मनियंत्रण
  • जीवन में उतार - चढ़ाव
  • चतुर
  • कुछ स्वार्थी होते हैं
  • दोष ढूँढने की प्रकृति
  • विश्लेषणात्मक कौशल
  • आरामदायक बुढ़ापा
  • शक्ति
  • प्रतिष्ठा
  • सृजनात्मक
  • प्रभावी भाषण
  • शराब की आदत
  • घर से दूर रहने की इच्छा
  • कभी - कभी लापरवाह
  • झगडालू
  • प्रत्यक्षवादी
  • कानून तोड़ने वाला

प्रतिकूल नक्षत्र

  • स्वाती
  • अनुराधा
  • मूल
  • अश्विनी
  • भरणी
  • कृत्तिका मेष राशि

हस्त नक्षत्र में जन्म लेने वालों को इन दिनों महत्वपूर्ण कार्य नहीं करना चाहिए और इन नक्षत्रों में जन्मे लोगों के साथ भागीदारी नहीं करना चाहिए। 

स्वास्थ्य

हस्त नक्षत्र में जन्म लेने वालों को इन स्वास्थ्य से संबन्धित समस्याओं की संभावना है-

  • वायु प्रकोप
  • पेटदर्द
  • आंतों का अवरोध
  • आंतों की सूजन
  • अपच
  • हैजा
  • पेचिश
  • सांस की बीमारी
  • कृमि की समस्या
  • तंत्रिका दर्द
  • मानसिक विकार 

व्यवसाय

हस्त नक्षत्र में जन्म लेने वालों के लिए कुछ अनुकूल व्यवसाय-

  • ट्रेडिंग
  • डाक सेवाएं
  • कूरियर
  • शिपिंग
  • सूत
  • निर्माण
  • रंग और स्याही उद्योग
  • कलाकार
  • राजनेता
  • कानूनी पेशा
  • निर्यात
  • डिप्लोमैट 

क्या हस्त नक्षत्र वाला व्यक्ति हीरा धारण कर सकता है?

अनुकूल है। 

भाग्यशाली रत्न

मोती

अनुकूल रंग

सफेद, हरा। 

हस्त नक्षत्र में जन्मे बच्चे का नाम

हस्त नक्षत्र के लिए अवकहडादि पद्धति के अनुसार नाम का प्रारंभिक अक्षर हैं-

  • पहला चरण - पू
  • दूसरा चरण - ष
  • तीसरा चरण - ण
  • चौथा चरण - ठ

नामकरण संस्कार के समय रखे जाने वाले पारंपरिक नक्षत्र-नाम के लिए इन अक्षरों का उपयोग किया जा सकता है।

शास्त्र के अनुसार नक्षत्र-नाम के अलावा एक व्यावहारिक नाम भी होना चाहिए जो रिकॉर्ड में आधिकारिक नाम रहेगा। उपरोक्त प्रणाली के अनुसार रखे जाने वाला नक्षत्र-नाम केवल परिवार के करीबी सदस्यों को ही पता होना चाहिए।

हस्त नक्षत्र में जन्म लेने वालों के व्यावहारिक नाम इन अक्षरों से प्रारंभ न करें - प, फ, ब, भ, म, अ, आ, इ, ई, श, ओ, औ। 

वैवाहिक जीवन

हस्त नक्षत्र में जन्म लेने वाली महिलाओं में गरिमा, बहुतायत और आकर्षक व्यवहार होगा। हस्त नक्षत्र में जन्मे लोगों को अपने जीवनसाथी के साथ गलती ढूंढने की प्रवृत्ति पर नियंत्रण। उन्हें वैवाहिक जीवन में अधिक विचारशील दृष्टिकोण विकसित करने का प्रयास करना चाहिए।

उपाय

हस्त नक्षत्र में जन्म लेने वालों के लिए शनि, राहु और केतु की दशाएं आमतौर पर प्रतिकूल होती हैं। 

वे निम्नलिखित उपाय कर सकते हैं।

मंत्र

ॐ सवित्रे नमः 

हस्त नक्षत्र

  • स्वामी - सविता
  • अधीश ग्रह - चन्द्र
  • पशु - भैंस
  • वृक्ष - आमडा
  • पक्षी - कौआ
  • भूत - अग्नि
  • गण - देव
  • योनि - भैंसन (स्त्री)
  • नाडी - आद्य
  • प्रतीक - हस्त

 

12.7K

Comments

rtix5

गन्धमादन पर्वत कहां है?

गंधमादन वह पर्वत है जहाँ बदरिकाश्रम और नर-नारायण आश्रम स्थित हैं। (महाभारत.वनपर्व.141.22-23)

विष्णु सहस्त्रनाम में कितने नाम है?

विष्णु सहस्रनाम में भगवान विष्णु के १००० नाम हैं। यह ॐ विश्वस्मै नमः से शुरू होकर ॐ सर्वप्रहरणायुधाय नमः में समाप्त होता है।

Quiz

राम - जानकी मार्ग कहां से कहां तक रहेगा ?
Copyright © 2024 | Vedadhara | All Rights Reserved. | Designed & Developed by Claps and Whistles
| | | | |