राधा किसका अवतार थी?

radha with krishna

गर्ग संहिता के अनुसार भगवान श्रीकृष्ण का परम धाम गोलोक है जो कैलाश और वैकुण्ठ से भी ऊपर है।

वहां भगवान, राधा रानी और गोपीजनों के साथ निवास करते हैं।

पृथ्वी को दुष्ट असुरों से बचाने के लिए भगवान ने वसुदेव और देवकी के पुत्र के रूप में अवतार लिया।

उस समय गोलोक से राधा जी भी वृषभानु पुत्री राधा के रूप में वृन्दावन में अवतार ली।

गोलोक के गोपीजन वृन्दावन के गोप और गोपिका बन गये।

इसका प्रमाण है -

भगवानुवाच -  त्वया सह गमिष्यामि मा शोचं कुरु राधिके।

हरिष्यामि भुवो भारं करिष्यामि वचस्तव॥ (ग.सं. ३.३१)

इसके अनुसार राधा गोलोक में भगवान श्रीकृष्ण की वल्लभा राधा रानी का ही अवतार थी।

 

Recommended for you

 

 

Video - Top 10 Radha Rani Bhajans 

 

Top 10 Radha Rani Bhajans

 

 

Image attribution

 

Ramaswamy Sastry and Vighnesh Ghanapaathi

Copyright © 2022 | Vedadhara | All Rights Reserved. | Designed & Developed by Claps and Whistles
| | | | |
Vedahdara - Personalize