अपने दिव्य कार्यों, वीरता, बलिदान, धर्मपरायणता, सत्य, पवित्रता, दया और सरलता के लिए प्रसिद्ध महापुरुषों को भी एक दिन मरना पड़ता है। महाभारत.१.१.२४१-२४२.

Parv 1 Adhyay 1 Shlok 241

Audios

1

1

Copyright © 2021 | Vedadhara | All Rights Reserved. | Designed & Developed by Claps and Whistles
| | | | |
Active Visitors:
2445771