सुख और कल्याण के लिए मंत्र

11.8K

Comments

dhpGr

शिवलिंग की कहानी क्या है?

ब्रह्मा जी और विष्णु जी बहस कर रहे थे कि उनके बीच कौन ज्यादा श्रेष्ठ हैं। उस समय शिव जी उनके सामने एक अनादि और अनन्त अग्नि स्तंभ के रूप में प्रकट हुए जिसका न विष्णु जी न आधार ढूंढ पाये न ब्रह्मा जी शिखर ढूंढ पाए। इस अग्नि स्तंभ का प्रतीक है शिवलिंग।

कुंडेश्वर महादेव की महिमा

इस मंदिर का शिवलिंग हर साल चावल नुमा आकार में बढता रहता है।

Quiz

इन्द्र को शतक्रतु क्यों कहते हैं ?

ॐ क्लीं देहि सौभाग्यमारोग्यं देहि मे परमं सुखम् । रूपं देहि जयं देहि यशो देहि द्विषो जहि क्लीं नमः ॥....

ॐ क्लीं देहि सौभाग्यमारोग्यं देहि मे परमं सुखम् ।
रूपं देहि जयं देहि यशो देहि द्विषो जहि क्लीं नमः ॥

Copyright © 2024 | Vedadhara | All Rights Reserved. | Designed & Developed by Claps and Whistles
| | | | |