रक्षा के लिए मृत्युंजय मंत्र

64.8K

Comments

e3ufr
इस मंत्र से दिल में शांति मिलती है 🕊️ -सारांश शाह

वेदधारा समाज की बहुत बड़ी सेवा कर रही है 🌈 -वन्दना शर्मा

कृपया मुझे और मेरे परिवार को बुरी नज़र से बचाएं -Samit Nandre

यह वेबसाइट बहुत ही शिक्षाप्रद और विशेष है। -विक्रांत वर्मा

वेदधारा का प्रभाव परिवर्तनकारी रहा है। मेरे जीवन में सकारात्मकता के लिए दिल से धन्यवाद। 🙏🏻 -Anjana Vardhan

Read more comments

पराशर महर्षि का जन्म कैसे हुआ?

पराशर महर्षि के पिता थे शक्ति और उनकी माता थी अदृश्यन्ती। शक्ति वशिष्ठ के पुत्र थे। वशिष्ठ और विश्वामित्र के बीच चल रहे झगड़े में, एक बार विश्वामित्र ने कल्माषपाद नामक एक राजा को राक्षस बनाया। कल्माषपाद ने शक्ति सहित वशिष्ठ के सभी सौ पुत्रों को खा लिया। उस समय अदृश्यन्ती पहले से ही गर्भवती थी। उन्होंने पराशर महर्षि को वशिष्ठ के आश्रम में जन्म दिया।

आदित्य हृदय स्तोत्र के फायदे क्या हैं?

आदित्य हृदय स्तोत्र का पाठ करने से भय और खतरों से सुरक्षा मिलती है। इससे प्रतिद्वंद्वियों के साथ लड़ाई में सफलता प्राप्त होती है।

Quiz

श्रीकृष्ण और बलराम को नंदगांव से मथुरा कौन ले आया?

ॐ जूं सः चण्डविक्रमाय चतुर्मुखाय त्रिनेत्राय स्वाहा सः जूं ॐ....

ॐ जूं सः चण्डविक्रमाय चतुर्मुखाय त्रिनेत्राय स्वाहा सः जूं ॐ

Copyright © 2024 | Vedadhara | All Rights Reserved. | Designed & Developed by Claps and Whistles
| | | | |