मातृत्व के दौरान सुरक्षा और शांति के लिए मंत्र

86.1K
7.5K

Comments

hmejr
बहुत उपयोगी है अभी मेरे लिए -Shivalika Mishra

बहुत अच्छा प्रभाव 🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏 -राहुल ठाकुर

आपके मंत्र बहुत ही उपयोगी हैं। 😊 -विनीत राजपूत

मैं खुशहाल वैवाहिक जीवन और घर में खुशहाली के लिए प्रार्थना करता हूं -अनूप तनेजा

बहुत बहुत धन्यवाद -User_se0353

Read more comments

देवकी को कारागार क्यों जाना पडा?

अदिति और दिति कश्यप प्रजापति की पत्नियां थी। कश्यप से अदिति में बलवान इंन्द्र उत्पन्न हुए। इसे देखकर दिति जलने लगी। अपने लिे भी शक्तिमान पुत्र मांगी। कश्यप से गर्भ धारण करने पर अदिति ने इंन्द्र द्वारा दिति के गर्भ को ४९ टुकडे कर दिया जो मरुद्गण बने। दिति ने अदिति को श्राप दिया कि संतान के दुःख से कारागार में रहोगी। अदिति पुनर्जन्म में देवकी बनी और कंस ने देवकी को कारागार में बंद किया।

भीष्म पितामह अपने पूर्व जन्म में कौन थे?

भीष्म जी अपने पूर्व जन्म में द्यौ थे जो अष्ट वसुओं में से एक हैं। वे सभी ऋषि वशिष्ठ के श्राप के कारण धरती पर जन्म लिए थे। उनकी मां, गंगा ने उन्हें श्राप से राहत देने के लिए जन्म के तुरंत बाद उनमें से सात को डुबो दिया। सिर्फ भीष्म जी जीवित रहे।

Quiz

गौमाता कौन है ?

हिमवत्युत्तरे पार्श्वे सुरसा नाम यक्षिणी। तस्या नूपुरशब्देन विशल्या भवतु गर्भिणी स्वाहा॥....

हिमवत्युत्तरे पार्श्वे सुरसा नाम यक्षिणी।
तस्या नूपुरशब्देन विशल्या भवतु गर्भिणी स्वाहा॥

Copyright © 2024 | Vedadhara | All Rights Reserved. | Designed & Developed by Claps and Whistles
| | | | |