पति और पत्नी के बीच स्नेह के लिए शक्ति गणपति मंत्र

33.0K
1.1K

Comments

ecxkf
वेदधारा के धर्मार्थ कार्यों में समर्थन देने पर बहुत गर्व है 🙏🙏🙏 -रघुवीर यादव

आपकी वेबसाइट से बहुत सी नई जानकारी मिलती है। -कुणाल गुप्ता

यह मंत्र सुनने के बाद मन शांत हो जाता है। -महेंद्र सिंह

इस परोपकारी कार्य में वेदधारा का समर्थन करते हुए खुशी हो रही है -Ramandeep

वेदधारा समाज के लिए एक महान सेवा है -शिवांग दत्ता

Read more comments

 

 

Knowledge Bank

क्या व्रत करना जरूरी है?

व्रत करने से देवी देवता प्रसन्न होकर आशीर्वाद देते हैं। जीवन में सफलता की प्राप्ति होती है। मन और इन्द्रियों को संयम में रखने की क्षमता आती है।

सर्पों की देवी कौन है?

मनसा देवी।

Quiz

गंगाजी को पृथ्वी पर कौन ले आया ?

आलिङ्ग्य देवीमभितो निषण्णां परस्परास्पृष्टकटीनिवेशम्। सन्ध्यारुणं पाशसृणीवहन्तं भयापहं शक्तिगणेशमीडे॥....

आलिङ्ग्य देवीमभितो निषण्णां परस्परास्पृष्टकटीनिवेशम्।
सन्ध्यारुणं पाशसृणीवहन्तं भयापहं शक्तिगणेशमीडे॥

Mantras

Mantras

मंत्र

Click on any topic to open

Copyright © 2024 | Vedadhara | All Rights Reserved. | Designed & Developed by Claps and Whistles
| | | | |