भविष्यवाणी की शक्ति प्राप्त करने का मंत्र

90.3K

Comments

zje2m
🌟 Vedadhara is enlightning us with the hiden gems of Hindu scriptures! 🙏📚 -Aditya Kumar

This is the best website -Prakash Bhat

Ram Ram -Aashish

My day starts with Vedadhara🌺🌺 -Priyansh Rai

this website is a bridge to our present and futur generations toour glorious past...superly impressed -Geetha Raghavan

Read more comments

महर्षि व्यास का दूसरा नाम क्या है?

महर्षि व्यास का असली नाम है कृष्ण द्वैपायन। इनका रंग भगवान कृष्ण के जैसा था और इनका जन्म यमुना के बीच एक द्वीप में हुआ था। इसलिए उनका नाम बना कृष्ण द्वैपायन। पराशर महर्षि इनके पिता थे और माता थी सत्यवती। वेद के अर्थ को पुराणों और महाभारत द्वारा विस्तृत करने से इनको व्यास कहते हैं। व्यास एक स्थान है। हर महायुग में एक नया व्यास होता है। वर्तमान महायुग के व्यास हैं कृष्ण द्वैपायन।

रामचरितमानस कितने दिन पढ़ना है?

रामचरितमानस पढ़ने के दो विधान हैं - १. नवाह्न पाठ - जिसमें संपूर्ण मानस का पाठ नौ दिनों में किया जाता है। २. मासिक पाठ - जिसमें पाठ एक मास की अवधि में संपन्न किया जाता है।

Quiz

पुष्पक विमान किस चीज़ से बनाया गया था ?
Copyright © 2024 | Vedadhara | All Rights Reserved. | Designed & Developed by Claps and Whistles
| | | | |