अंधेरी शक्तियों से बचाव के लिए प्रत्यंगिरा मंत्र

सुनने का लाभ - काले जादू से बचाव

64.0K
1.1K

Comments

7iqmy
मेरी रक्षा करो माँ प्रत्यंगिरा🙏 -User_sd62yy

काले जादू से मेरी रक्षा करो🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏 -Mrinmoy

कोटि कोटि प्रणाम माँ प्रत्यंगिरे 🙏 -chandra dutta

कृपया मेरे स्वास्थ्य में सुधार करें, जय माता दी🌹🌹 -Shantanu

जय काली जय प्रत्यंगिरा देवी 🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏 -Vaishnav

Read more comments

यज्ञ के लिए अयोग्य देश

गवां वा ब्राह्मणानां वा वधो यत्र च दस्युभिः। असावयज्ञियो देशः - जिस देश में दुष्टों द्वारा गौ और तपोनिष्ठ ब्राह्मणों का वध होता है, वह देश यज्ञ के लिए योग्य नहीं है।

शिव और शक्ति के बीच क्या संबंध है?

शिव और शक्ति एक ही सिक्के के दो पहलू जैसे हैं। जैसे चन्द्रमा के बिना चांदनी नहीं, चांदनी के बिना चन्द्रमा नहीं; शिव के बिना शक्ति नहीं और शक्ति के बिना शिव नहीं।

Quiz

इन्द्रप्रस्थ का निर्माण किसने किया ?

ॐ नमः कृष्णवाससे शतसहस्रकोटिसिंहासने सहस्रवदने अष्टादशभुजे महाबले महाबलपराक्रमे अजिते अपराजिते देवि महाप्रत्यङ्गिरे प्रत्यङ्गिरसे अन्यपरकर्मविध्वंसिनि परमन्त्रोच्चाटिनि परमन्त्रोत्सादिनि सर्वभूतगमिनि खें सौं प्रे....

ॐ नमः कृष्णवाससे शतसहस्रकोटिसिंहासने सहस्रवदने अष्टादशभुजे महाबले महाबलपराक्रमे अजिते अपराजिते देवि महाप्रत्यङ्गिरे प्रत्यङ्गिरसे अन्यपरकर्मविध्वंसिनि परमन्त्रोच्चाटिनि परमन्त्रोत्सादिनि सर्वभूतगमिनि खें सौं प्रें ह्रीं क्रों मां सर्वोपद्रवेभ्यः सर्वापद्भ्यो रक्ष रक्ष ह्रां ह्रीं क्ष्रीं क्रों सर्वदेवानां मुखं स्तम्भय स्तम्भय सर्वविघ्नं छिन्धि छिन्धि सर्वदुष्टान् भक्षय भक्षय वक्त्रालयज्वालाजिह्वे करालवदने सर्वयन्त्राणि स्फोटय स्फोटय शृङ्खलान् त्रोटय त्रोटय प्रत्यसुरसमुद्रान् विद्रावय विद्रावय सौं रौद्रमूर्ते महाप्रत्यङ्गिरे महाविद्ये शान्तिं कुरु कुरु मम शत्रून् भक्षय भक्षय ॐ ह्रां ह्रीं ह्रूं जम्भे जम्भे मोहे मोहे स्तम्भे स्तम्भे ॐ ह्रीं हुं फट् प्रत्यङ्गिरसे स्वाहा ।

Copyright © 2024 | Vedadhara | All Rights Reserved. | Designed & Developed by Claps and Whistles
| | | | |