प्राण प्रतिष्ठा कोई अन्ध विश्वास नहीं है

92.0K

Comments

ecr35

शिव जी को अद्वितीय क्यों कहते हैं?

क्यों कि शिव जी ही ब्रह्मा के रूप में सृष्टि, विष्णु के रूप में पालन और रुद्र के रूप में संहार करते हैं।

महाभारत के अनुसार गांधारी को सौ पुत्र कैसे प्राप्त हुए?

गांधारी ने ऋषि व्यास जी से सौ शक्तिशाली पुत्रों का वरदान मांगा। व्यास जी के आशीर्वाद से वह गर्भवती हो गई, लेकिन उसे लंबे समय तक गर्भधारण का सामना करना पड़ा। जब कुंती के पुत्र का जन्म हुआ तो गांधारी को निराशा हुई और उसने अपने पेट पर प्रहार किया। उसके पेट से मांस का एक लोथड़ा निकला। व्यास जी फिर आए, कुछ अनुष्ठान किए और एक अनोखी प्रक्रिया के माध्यम से उस गांठ को सौ बेटों और एक बेटी में बदल दिया। यह कहानी प्रतीकवाद से समृद्ध है, जो धैर्य, हताशा और दैवीय हस्तक्षेप की शक्ति के विषयों पर प्रकाश डालती है। यह मानवीय कार्यों और दैवीय इच्छा के बीच परस्पर क्रिया को दर्शाता है।

Quiz

इनमें से कौनसी पुण्य नदी लद्दाख़ से बहती है ?
Copyright © 2024 | Vedadhara | All Rights Reserved. | Designed & Developed by Claps and Whistles
| | | | |