Special - Vidya Ganapathy Homa - 26, July, 2024

Seek blessings from Vidya Ganapathy for academic excellence, retention, creative inspiration, focus, and spiritual enlightenment.

Click here to participate

पढ़ाई में सफलता के लिए कृष्ण मंत्र

73.7K
1.4K

Comments

amcd3
मंत्र सुनकर अलौकिकता का अनुभव हुआ 🌈 -मेघा माथुर

इस मंत्र से दिल में शांति मिलती है 🕊️ -सारांश शाह

यह वेबसाइट अत्यंत शिक्षाप्रद है।📓 -नील कश्यप

बहुत उपयोगी है यह मेरे लिए - धन्यवाद 🌟 -Anuj Negi

वेदधारा की वजह से हमारी संस्कृति फल-फूल रही है 🌸 -हंसिका

Read more comments

Knowledge Bank

इन परिस्थितियों में, सूतक (मृत्यु या जन्म के कारण अशुद्धि) लागू नहीं होती

यदि ये समारोह पहले ही शुरू हो चुके हैं, तो अशुद्धि की खबर आने पर इन्हें बंद करने की आवश्यकता नहीं है - उपनयन, यज्ञ, विवाह, श्राद्ध, हवन, पूजा, जाप। लेकिन यदि खबर समारोह शुरू होने से पहले आती है, तो शुरू नहीं करना चाहिए।

विदुर की भक्ति: धन से परे सच्ची महानता

विदुर, राजा धृतराष्ट्र के सौतेले भाई, अपने धर्म के गहरे ज्ञान और धर्म के प्रति अटूट समर्पण के लिए प्रसिद्ध थे। जब कृष्ण महायुद्ध से पहले शांति वार्ता के लिए हस्तिनापुर आए, तो उन्होंने राजमहल के बजाय विदुर के विनम्र निवास में ठहरने का चयन किया। अपने साधारण साधनों के बावजूद, विदुर ने कृष्ण की अत्यंत भक्ति और प्रेम के साथ सेवा की, सरल भोजन के साथ महान आतिथ्य का प्रदर्शन किया। कृष्ण का यह चयन विदुर की सत्यनिष्ठा और उनकी भक्ति की पवित्रता को दर्शाता है, जो भौतिक संपत्ति और शक्ति से परे है। यह कहानी सच्चे आतिथ्य के मूल्य और नैतिक सत्यनिष्ठा के महत्व को सिखाती है। यह बताती है कि सच्ची महानता और दिव्य कृपा का निर्धारण किसी की सामाजिक स्थिति या धन से नहीं होता, बल्कि हृदय की निष्कपटता और पवित्रता से होता है। कृष्ण के प्रति विदुर की विनम्र सेवा इस बात का उदाहरण है कि जीवन में किसी की स्थिति की परवाह किए बिना, दयालुता और भक्ति के कार्य ही वास्तव में महत्वपूर्ण हैं।

Quiz

शुक्लांबरधरं....’यह मंत्र किस देवता से संबंधित है ?

कृष्ण कृष्ण महाकृष्ण सर्वज्ञ त्वं प्रसीद मे । रमारमण विश्वेश विद्यामाशु प्रयच्छ मे ।।....

कृष्ण कृष्ण महाकृष्ण सर्वज्ञ त्वं प्रसीद मे ।
रमारमण विश्वेश विद्यामाशु प्रयच्छ मे ।।

Mantras

Mantras

मंत्र

Click on any topic to open

Copyright © 2024 | Vedadhara | All Rights Reserved. | Designed & Developed by Claps and Whistles
| | | | |