दस दान

दस दान

दस दान पितरों की तृप्ति के लिए किया जाता है।

ये हैं -

  1. गाय
  2. भूमि
  3. तिल
  4. सोना
  5. घी
  6. वस्त्र
  7. धान्य
  8. गुड़
  9. चाँदी
  10. नमक

यह दान मृत्यु के समय, एकादशाह या द्वादशाह को किया जाता है।

गोभूतिलहिरण्याज्यं वासो धान्यं गुडानि च । 

रौप्यं लवणमित्याहुर्दशदानान्यनुक्रमात्॥

 

 

 

 

 

Video - गरुड़ पुराण : मृत्यु के बाद श्राद करना ज़रूरी क्यों है? 

 

गरुड़ पुराण : मृत्यु के बाद श्राद करना ज़रूरी क्यों है?

 

 

 

Ramaswamy Sastry and Vighnesh Ghanapaathi

Copyright © 2023 | Vedadhara | All Rights Reserved. | Designed & Developed by Claps and Whistles
| | | | |
Vedahdara - Personalize